राज्‍यों से
Breaking News

यूपी में 6 साल की मासूस के साथ निर्भया जैसी दरिंदगी

उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में गढ़मुक्तेश्वर क्षेत्र की छह साल की मासूम बच्ची के साथ निर्भया जैसी दरिंदगी हुई। बच्ची की मेडिकल रिपोर्ट चौकानें वाली हैं। डॉक्टरों के अनुसार बच्ची का प्राइवेट पार्ट डैमेज हो गया है और उनका कहना है कि सर्जरी करना मुश्किल है। जबकि आरोपी अब तक फरार हैं।

यूपी, गढ़मुक्तेश्वर क्षेत्र के एक गांव में बाइक सवार युवक ने खेल रही मासूम बच्ची को अगवा किया। जिसके कुछ घंटों बाद यह बच्ची एक खेत में पड़ी हुई मिली। मेडिकल जांच में पता चला कि बच्ची के साथ रेप हुआ था। अब बच्ची मेरठ के मेडिकल कॉलेज में भर्ती है। बच्ची का प्राथमिक इलाज हापुड़ के जिला अस्पताल में हुआ और वहां की मेडिकल रिपोर्ट के मुताबिक, बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर गंभीर चोटें आई हैं और पीठ पर भी कई चोट हैं। माना जा रहा है कि खेत में जमीन पर रगड़ने से ऐसा हुआ।

मेरठ के डॉक्टर्स ने बताया कि बच्ची होश में तो आ गयी है, लेकिन वह बेहद घबराई हुई है। उन्होंने यह भी बताया कि बच्ची की शरीर पर चोटें इतनी ज्यादा है, कि इनकी संख्या बताना मुश्किल है। उनका मानना है कि आरोपी ने किसी वस्तु का प्रयोग किया है जिसके कारण उनके शरीर में इतना डैमेज हुआ।

पीड़ित पिता से खिंचवाया स्ट्रेचर

गौरतलब है, कि शनिवार को सोशल मीडिया पर बच्ची के पिता का वीडियो वायरल हुआ। इसमें बच्ची के पिता स्ट्रेचर खींचते हुए नज़र आ रहे हैं। बच्ची के पिता का कहना है कि उन्हें अपनी बच्ची को ऑपरेशन के लिए दूसरे वार्ड में लेकर जाना था। आसपास कोई वार्ड बॉय न होने के कारण, वो खुद ही बच्ची को स्ट्रेचर से खींचकर ले गए। वहीं मेडिकल अस्पताल के डायरेक्टर प्रदीप कुमार ने बताया कि यह मामला उनके संज्ञान में नहीं है और अब जांच कराकर कार्यवाही की जायेगी

महिला आयोग सदस्य ने बच्ची की परिजनों से बात की

उत्तर प्रदेश महिला आयोग की सदस्य राखी त्यागी ने रेप पीड़िता के परिवार वालों का शनिवार को हाल जाना। परिजनों ने महिला आयोग की राखी त्यागी को बताया कि पुलिस ने शुरुआत में केवल गुमशुदगी दर्ज की थी, जबकि लोगों ने पुलिस को मौके पर ही बता दिया था कि कोई बाइक सवार उसे उठाकर ले गया है।
परिजनों ने हापुड़ पुलिस की उनकी बच्ची के केस में नाकामी को उजागर किया। आयोग सदस्य ने डॉक्टर्स से भी बच्ची की हालत के बारे में पूछा। डॉक्टर्स ने अगले 72 घंटे काफ़ी महत्वपूर्ण बताये। साथ ही महिला आयोग ने आरोपी की गिरफ्तारी और पीड़ित परिवार को मदद दिलाने के लिए अफसरों से बात करने का भरोसा दिलाया। महिला आयोग ने कहा कि परिवार को न्याय जरूर दिलवाएंगे।

अदिति शर्मा
Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: