राज्‍यों से
Breaking News

डॉ कफ़ील खान के उपर से हटा NSA, इलाहबाद हाई कोर्ट ने तुरंत रिहा करने का दिया आदेश

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने मंगलवार को डॉ कफील खान के सिलसिले में एक बड़ा फैसला सुनाया। कोर्ट ने डॉ कफ़ील के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत दायर आरोपों को खारिज किया और उनकी तत्काल रिहाई का आदेश दिया। 

क्यों हुए थे गिरफ़्तार?

आपको बता दें, डॉ कफ़ील खान 29 जनवरी, 2020 से उत्तर प्रदेश की मथुरा जेल में हैं। खान को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध प्रदर्शन के दौरान अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में एक भड़काऊ भाषण देने के आरोप में दिसंबर, 2019 के आरोप में गिरफ़्तार किया गया था। गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज के प्रवक्ता और बालरोग विशेषज्ञ के रूप में डॉ कफ़ील खान कार्यरत थे।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा NSA के तहत गिरफ़्तारी गैरकानूनी

कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि कफ़ील खान को भाषण ने लिए एनएसए के तहत गिरफ़्तार किया जानाग़ैरक़ानूनीहै। अदालत ने यह भी कहा कि डॉ कफ़ील खान का भाषण किसी भी तरह की नफ़रत या हिंसा को बढ़ावा देने वाला नहीं था। उन्होंने कहा कि यह भाषण तो लोगों के बीच राष्ट्रीय एकता को बढ़ावा देने के लिए था।

बता दें कि डॉक्टर कफ़ील खान पिछले तकरीबन 6 महीने से जेल में बंद हैं। इसके अलावा हाल ही में उनकी हिरासत को 3 महीने के लिए बढ़ाया गया था। डॉ कफ़ील खान ने पिछले दिनों प्रधानमंत्री मोदी को चिट्ठी लिखकर रिहा करने और कोविड 19 मरीज़ो की सेवा करने के लिए मांग भी की थी। 

लंबे समय से डॉ कफ़ील खान की रिहाई की हो रही थी लिए मांग

इनकी रिहाई की मांग कई दिनों सामाजिक कार्यकर्ता और इनके समर्थक ट्विटर पर #Releasedrkafeelkhan से भी कर रहे थे। आज इस फैसले के बाद आख़िरकार डॉ कफ़ील खान के लिए और उनके समर्थकों के लिए ख़ुशी और जीत का दिन है।

अदिति शर्मा
Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: