राज्‍यों से

उत्तर प्रदेश: अमरोहा की नेशनल ऐड संस्था द्वारा लगाए गए 300 पौधे, 1000 पौधें लगाने का है टारगेट

नेशनल ऐड संस्था द्वारा भारत के अलग अलग हिस्सों में व्रक्षारोपण का काम बहुत जोर शोर से चल रहा है जिसको नाम दिया गया है "दरख़्त" Let's think about फ्यूचर।

नेशनल ऐड संस्था द्वारा भारत के अलग अलग हिस्सों में व्रक्षारोपण का काम बहुत जोर शोर से चल रहा है जिसको नाम दिया गया है “दरख़्त” Let’s think about future। पिछले दिनों के हालात हम सबके सामने हैं कि कैसे लोग बन्द बोतलों में अपनी सांसों के लिए दौड़ भाग कर रहे थे। ऑक्सिजन की कमी के चलते ना जाने कितने लोगों ने अपनी जानें गवाई थीं, और ज़्यादातर ये मामले शहरों में देखने को मिले थे। गांव में जहां हरियाली ज़्यादा है उधर इतना बुरा हाल नहीं हुआ था कारण केवल एक था अधिक मात्रा में पेड़-पौधे।

वहीं अगर इस्लाम के नज़रिए से देखें तो पेड़ लगाना “सुन्नत”है जिस की फ़ज़ीलत लामेहदूद है। एक पेड़ लगाने से इसकी छांव इसके फल इसकी ठंडी हवा और ऑक्सिजन का फायदा पूरी इंसानियत ही नही हर मखलूक उठा सकती है।

पत्रकार वसीम अमरोही ने उठाई जिम्मेदारी

अमरोहा में 1000 पेड़ लगाने का टारगेट लेकर चल रही इस टीम का आगाज़ 300 पौधों से हुआ है। नेशनल ऐड के सदर नावेद चौधरी ने अमरोहा में नेशनल ऐड की कमान पत्रकार वसीम अकरम अमरोही को सौंपी है। वसीम ने अपने दोस्तों को साथ ले कर इस मुहिम को आगे बढ़ाने का प्रयास किया है। अमरोहा के अलग अलग हिस्सों में जैसे कि कब्रिस्तान और कुछ लोगो के गार्डन में पेड़ लगाए हैं ताकि इनकी देख रेख अच्छे से की जा सके। अब तक 7 राज्यो में पेड़ लगाए जा चुके है नावेद भाई का कहना है कि शुरुआत में 1 लाख पेड़ो का टारगेट पूरा करना है।

इस मुहिम में वसीम अकरम अमरोही , अनस अंसारी , अनस सिद्दीकी , सन्नी मंसूरी , तनवीर आलम अंसारी, हाशिर सैफी और सुल्तान मंसूरी शामिल रहे।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: