राज्‍यों से
Breaking News

बिहार चुनाव: तेजस्वी रचेगें इतिहास या फिर नीतीश करेगें बिहार पर राज!

बिहार में इस बार किसकी सरकार बनेगी, यह कल साफ़ हो जायेगा। बिहार चुनाव प्रचार में  राजनितिक पार्टियों ने वोटरों को लुभाने के लिए काफी बढ़िया कोशिश की है। अब देखना होगा कि किस पार्टी पर लोगों ने विश्वास दिखाया है। वोटों की गिनती कल सुबह शुरू होगी और शाम तक स्थिति साफ हो जायेगी। बहुमत में आने के लिए  किसी भी दल को 122 सीटों पर जीत हासिल करनी होगी।

एग्जिट पॉल में तेजस्वी यादव आगे, शाहनवाज बोले NDA की बनेगी सरकार

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए सभी राजनितिक दलों ने बड़ी जोरो शोरों से प्रचार किया। महागठबंधन का नेतृत्व करने वाले आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव एग्जिट पॉल में लीड करते नजर आ रहे हैं। माना जा रहा है कि बिहार के लोग अब नया चेहरा देखना चाहते हैं और यही कारण है कि लोग इन्हें नितीश कुमार के बदले चाह रहे हैं। हालाकिं भाजपा का मानना है कि एग्जिट पॉल से नतीजे का अनुमान लगाना सही नहीं है। बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने भरोसा जताया है कि एनडीए भारी बहुमत से सरकार बनाएगी। उन्होंने कहा कि एक बार फिर नितीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री पद को संभालेंगे।

एनडीए को वापसी की है उम्मीद

एग्जिट पोल को देखें तो बीजेपी के जीत के आसार काफी कम है। लेकिन एनडीए का मानना है कि साइलेंट और महिला वोटर उनके पक्ष में नतीजे लाने में सहायक होंगे। जेडीयू नेता नितीश कुमार और उनकी पार्टी के बाकि नेताओं का भी यही कहना है कि साइलेंट वोटर कमाल कर सकते हैं। उन्होंने इसके पीछे की वजह पीएम मोदी बताई है। उनका कहना है कि बिहार में बहुत सारे लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजनाओं का सीधा लाभ हुआ है और इसलिए ये वोटर रिजल्ट बदल सकते हैं।

बहुमत के लिए चाहिए 122 का जादुई आंकड़ा

आपको बता दें, बिहार की 243 विधानसभा सीटों के लिए तीन चरणों में चुनाव संपन्न हुआ था। जिसमे पहले चरण में लिए 71 सीटों पर, दुसरे चरण में 94 सीटों पर और 7 नवम्बर को 78 सीटों पर मतदान हुआ। जिसके बाद से महागठबंधन जीत की ओर बढ़ता नजर आ रहा है। अब सरकार बनाने के लिए 122 सीटों का आंकड़ा पार करना होगा। लगभग 3 एग्जिट पोल साफ तौर पर महागठबंधन की स्पष्ट जीत दिखा रहे हैं, लेकिन क्रिकेट मैच की तरह चुनाव के नतीजे भी कब बदल जाएँ पता नहीं लगता है। यदि महागठबधंन 122 सीटें जीत लेता है तो नितीश कुमार की 15 साल के शासन के बाद, बिहार के नए अध्याय की शुरुआत होगी।

शिवसेना का दावामहागठबंधन की होगी जीत

शिवसेना ने सोमवार को दावा किया है कि बिहार चुनाव में जिस तरह तेजस्वी यादव की रैलियों में भीड़ देखी गयी उससे बहुत अच्छे नतीजे आने की उम्मीद है। शिवसेना के मुखपत्र सामना में आज बिना किसी और इशारा किए लिखा गया, ‘‘ झूठ के गुब्बारे हवा में छोड़े गये थे, लेकिन वे हवा में अपने आप ही गायब हो गये.” संपादकीय में कहा गया, ‘‘ संकेत स्पष्ट है कि बिहार में नेतृत्व परिवर्तन होगा जैसा अमेरिका में हुआ।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: