देश
Breaking News

लॉकडाउन में आज से किन गतिविधियों को मिलेगी छूट

जैसा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 अप्रैल को दिए अपने भाषण में कहा था कि 20 अप्रैल से कुछ शर्तों के साथ लॉकडाउन से कुछ इलाक़ों में छूट दी जाएगी। इस संबंध में सरकार ने 15 अप्रैल को दिशा-निर्देश भी जारी किए थे, साथ ही उन गतिविधियों का भी ज़िक्र किया था जिन्हें अनुमति दी जाएगी।

देश भर में महीनें भर से चल रहे लॉकडाउन में सरकार ने 20 अप्रेल यानि आज से उन इलाकों में कुछ गतिविधियों के लिए छूट दी है जहां कोरोना के संक्रमण के फैलने का खतरा नही है। गृह मंत्रालय के अनुसार ऐसे क्षेत्र जो हॉटस्पॉट, क्लस्टर्स, कंटेनमेंट ज़ोन में नहीं आते उनमें कुछ गतिविधियों की अनुमति दी जा रही है। हालांकि ये रियायत कंटेनमेंट ज़ोन में लागू नहीं होगी। केन्द्र सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कियह सुनिश्चित करना ज़रूरी है कि छूट केवल वास्तविक परिस्थितियों का सही से आंकलन करके दी जाए। इसके साथ ही सरकार ने ग्रामीण अर्थव्यवस्था को बल देने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में कुछ आर्थिक गतिविधियों की इजाज़त दी है। सरकार ने राज्य सरकारों को निर्देश देते हुए कहा है कि बड़ी औद्योगिक इकाइयों और औद्योगिक परिसरों के संचालन पर विशेष ध्यान दिया जाए। ख़ासकर ऐसी इकाइयों के संचालन पर ज़ोर देना है जहां मज़दूरों के परिसर में ही रहने की व्यवस्था हो। 20 अप्रैल की मध्यरात्रि से ये छूट मिलनी शुरु हो गई है। 

लॉकडाउन में इन गतिविधियों के लिए मिलेगी छूट

  • खेती, हॉर्टीकल्चर, कृषि से जुड़ी गतिविधियों को शुरू करने की इजाज़त दी जाएगी।
  • सभी स्वास्थ्य सेवाएं चालू रहेंगी। इनमें आयूष से जुड़ी सेवाएं भी शामिल है।
  • मनरेगा मजदूरों को काम करने की इजाज़त होगी लेकिन उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग का सख़्ती से पालन करना होगा।
  • खेती से जुड़े सामान, कलपुर्ज़े, सप्लाई चेन से जुड़े काम किए जा सकेंगे।
  • दवा बनाने वाली कंपनियां और मेडिकल उपकरण बनाने वाले कारख़ाने खुलेगें।
  • चाय, कॉफ़ी, और रबर पलांटेशन को अधिकतम 50 फ़ीसदी कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति होगी।
  • तेल और गैस सेक्टर से जुड़ी सभी गतिविधियां जारी रहेंगी।
  • पोस्टल सर्विस जारी रहेगी, पोस्ट ऑफ़िस खुले रहेंगे।
  • गौशाला और जानवरों के शेल्टर होम खुले रहेंगे।
  • आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति जारी रखी जाएगी।
  • निर्माण कार्यों को इजाज़त होगी।
  • हाइवे के ढाबे, ट्रक रिपेयर करने वाली दुकान, सरकारी काम से जुड़े कॉल सेंटर खुल सकेंगे।
  • इलेक्ट्रिशियन, आईटी रिपेयरिंग वाले, पलंबर, मोटर मैकेनिक, कार्पेंटर और इसी तरह के स्वरोज़गार वाले लोगों को काम करने की इजाज़त होगी।
  • लेकिन ये सारी छूट कोरोना के हॉटस्पॉट और कंटेनमेंट ज़ोन में रहने वाले लोगों को नहीं दी जाएगी।
  • ग्रामीण इलाक़ों में चल रहे उद्योग धंधों को खोलने की अनुमति होगी लेकिन इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग का सख़्ती से पालन करना होगा।
  • किसी भी राज्य सरकार या केंद्र शासित प्रदेश को इन गाइडलाइन को नज़रअंदाज़ करने की अनुमति नहीं है।हांलाकि राज्य या केंद्र शासित प्रदेश चाहें तो अपने स्थानीय ज़रूरतों के अनुसार लॉकडाउन को और ज़्यादा सख़्त बना सकते हैं।
  • केंद्र सरकार और राज्य सरकार के सभी दफ़्तर खुले रहेंगे।
  • सार्वजनिक जगहों पर फ़ेस मास्क पहनना या किसी भी तरह चेहरे को ढंकना अब अनिवार्य कर दिया गया है।
  • पीडीएस, फलसब्ज़ी, दवा, राशन, दूध, गोश्त, मछली की दुकानें खुली रहेंगी।
  • बैंक और एटीएम खुले रहेंगे।
  • शेयर बाज़ार खुले रहेंगे।

गतिविधियों के लिए नहीं मिलेगी छूट

  • रेल, मेट्रो, सड़क और हवाई यात्रा तीन मई तक बंद रहेंगे।
  • शॉपिंग मॉल, सिनेमाघर, ऑडिटोरियम, खेल परिसर, स्वीमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, बार, जिम, रेस्त्रां वग़ैरह भी बंद रहेंगे।
  • स्कूल, कॉलेज और सभी शिक्षण संस्थान भी तीन मई तक बंद रहेंगे। लेकिन इन संस्थानों को अकादमिक सेशन को मेंटेन करना होगा, इसके लिए वे ऑनलाइन क्लासेज़ का सहारा ले सकते हैं। इसके लिए दूरदर्शन और दूसरे शैक्षणिक चैनलों की भी मदद ली जा सकती है।
  • मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारे, चर्च और किसी भी तरह के धार्मिक स्थल पूरी तरह बंद रहेंगे, इसके लिए किसी भी तरह के धार्मिक आयोजन की भी अनुमति नहीं होगी।
  • शादीविवाह, सार्वजनिक कार्यक्रम, सामाजिक उत्सव, सांस्कृतिक कार्यक्रम, सेमिनार, राजनीतिक कार्यक्रम, कॉन्फ़्रेंस, खेल आयोजन पर भी पाबंदी जारी रहेगी।
  • अंतिम संस्कार में 20 से ज़्यादा लोगों को शामिल होने की इजाज़त नहीं है।
Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: