देश
Breaking News

किसान बिल के विरोध में पंजाबी गायक दिलजीत का ट्वीट, बिल को बताया किसान विरोधी

केन्द्र सरकार ने लोकसभा में कृषि बिल पेश किये, जिसके बाद से ही बिल के खिलाफ पंजाब और हरयाणा के किसानों का विरोध बढ़ता ही जा रहा है। अब इसपर मशहूर पंजाबी गायक दिलजीत दोसांझ ने भी ट्वीट किया। वहीं पीएम मोदी ने इस बिल को पास करने को किसानों के लिए आजादी बताया।

गायक दिलजीत का ट्वीट

दिलजीत ने अपने ट्वीट में लिखा कि जो किसान पुरे राष्ट्र की रोटी की उम्मीद को बांधता है, अब वही किसान मूल्य तय नहीं कर पाएंगे। उनका यह ट्वीट जमकर सुर्खियां बटोर रहा है और लोग इसपर कमेंट भी खूब कर रहे हैं। दिलजीत  दोसांझ से एक यूजर ने ट्वीट कर पूछा कि क्या आप बता सकते हैं, कि किसान किस चीज का विरोध कर रहे हैं! उन्होंने लिखा मुझे नहीं लगता यह पूरा विधेयक किसानों के विरोध में है, कृपया फेक न्यूज न फैलाएं।

दिलजीत से यूजर ने कहा कि फेक न्यूज न फैलाएं, तो इस तरह दिया जवाब

दिलजीत ने जवाब में लिखा कि किसानों अब मूल्य तय नहीं कर सकते हैं और कोई न्यूनतम मूल्य तय नहीं है। इसके आगे उन्होंने लिखा कि किसानों के पास फसलों को रखने के लिए गोदाम तक नहीं है। इसलिए यह मायने नहीं रखता के उनके पास कितनी उपलब्ध सीमा है। हम लोग किसान से उम्मीद रखते हैं, सारे राष्ट्र को खिलाने की, लेकिन अब वो खुद ही मूल्य तय नहीं कर सकते हैं! शाबाश….

हरसिमरत ने दिया था बिल के विरोध में इस्तीफा

आपको बता दें, विरोध में किसान का मानना है कि बिल के पास होने से उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य नहीं मिल सकेगा। बिल पर असहमति जताते हुए बीजेपी की सहयोगी अकाली दल की मंत्री हरसिमरत कौर ने कल मोदी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया है।

पीएम मोदी ने बिल को किसानों की आजादी बताया

पीएम नरेंद्र मोदी ने बिल के पास होने को किसानों के लिए आजादी का अवसर बताया। उन्होंने कहा कि बिल का  विरोध  करने वाले इसपर MSP और सरकारी व्यवस्था के खत्म होने की बात कि अफवाह फैला रहे हैं। पीएम ने कहा ऐसा कर किसानों के साथ धोखा किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि बिल के जरिए किसान और ग्राहक के बीच से बिचौलिए ख़त्म होंगे, जिसका सीधा लाभ किसानों को होगा। विरोध करने वालों पर पीएम ने कहा कि बस विरोध के लिये नए तरिके अपना रहे हैं। उन्होंने राहुल गांधी और कांग्रेस पर भी निशाना साधा और कहा कि देश पर दशकों तक राज करने वाले आज भ्रम फैला रहे हैं।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: