राज्‍यों से
Breaking News

उप मुख्समंत्री का पद जाता देख सुशील मोदी के बदले सुर, कही ये बात

बिहार में रविवार को एनडीए (NDA) दल के विधायकों की बैठक हुई। एक बार फिर नीतीश कुमार को सबकी सहमति से बिहार एनडीए विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। सीएम नीतीश कुमार के आवास पर हुई इस अहम् बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भूपेंद्र सिंह और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस भी शामिल हुए। उप मुख्यमंत्री का पद कौन संभालेगा यह अभी साफ नहीं है।

नीतीश कुमार लगातार चौथी बार बिहार के मुख्यमंत्री

एक बार फिर बिहार की बागडोर नीतीश कुमार संभालने जा रहे हैं। एनडीए (NDA) दल के विधायकों की  बैठक के बाद नीतीश कुमार ने राजभवन जाकर, राज्यपाल फागू चौहान के सामने सरकार बनाने का पत्र पेश किया। मीडिया से उन्होंने कहा कि सोमवार को शाम 4-4:30 बजे शपथ ग्रहण समारोह होगा। साथ ही कहा कि राज्य के विकास के लिए सभी मिलकर काम करेंगे।

बीजेपीजेडीयू में कितनेकितने विधायक

आपको बता दें, एनडीए गठबधंन में सबसे ज्यादा 74 विधायक बीजेपी के पास हैं, वहीं जेडीयू के पास 43 विधायक हैं। इसके अलावा सहयोगी दल HAM और वीआईपी के पास 4-4 विधायक हैं। फ़िलहाल यह साफ नहीं किया गया है कि मंत्रिमंडल में भाजपा या जेडीयू में से किसके ज्यादा मंत्री रखे जाएंगे। सूत्रों की मानें तो बीजेपी से 18-20 मंत्री और जेडीयू से 12-14 मंत्री बनने का अनुमान लगाया जा रहा है।

बिहार का अगला डिप्टी सीएम कौन?

एनडीए की चर्चित बैठक के बाद भी बिहार के डिप्टी सीएम का पद कौन संभालेगा, इसको लेकर सस्पेंस अभी भी बरकरार है। बता दें, भाजपा से वरिष्ठ नेता प्रेम कुमार ने उपमुख्यमंत्री पद के लिए अपनी दावेदारी पेश की है। उनका कहना है कि वे पिछले 50 साल से पार्टी की सेवा कर रहे हैं। इसके अलावा वह लगातार आठवी बार गया से विधायक चुने गए हैं।

दूसरी तरफ बात करें सुशील कुमार मोदी की तो लगभग 13 साल से बिहार के मुख्यमंत्री पद पर हैं। इस बार भी वह इस पद के मजबूत दावेदार हैं। प्रेम कुमार, सुशील मोदी के अलावा मुख्यमंत्री पद के लिए तीसरे दावेदार हैंदलित नेता कामेश्वर चौपाल। यह राम मंदिर आंदोलन में इससे पहले एक्टिव थे

उप मुख्समंत्री पद जाता देख सुशील मोदी दिखे हताश

खबरों के मुताबिक सुशील मोदी को दोबारा उपमुख्यमंत्री बनाये जाने की बात पर कुछ लोगों ने विरोध किया है। इसपर बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने ट्विटर पर लिखा कि भाजपा और संघ परिवार ने मुझे मेरे 40 साल के राजनितिक जीवन में इतना दिया है, जितना शायद ही किसी दूसरे को मिला होगा। उन्होंने साथ ही कहा कि कार्यकर्त्ता का पद तो कोई छीन नहीं सकता है और  आगे भी जो जिम्मेदारी मिलेगी उसे निभाउंगा।

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: