Uncategorizedदेश
Breaking News

गोदी मीडिया के TRP स्कैंडल का क्या है खेल, पूछता है भारत ?

मुंबई पुलिस ने एक फ्रॉड टीआरपी रैकेट का खुलासा किया है। पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने बताया कि  पुलिस इस टीआरपी घोटाले की जांच कर रही है। मुंबई पुलिस ने शुरूआती जांच के हिसाब से बताया कि जिन तीन चैनलों की पहचान की है उनमे रिपब्लिक टीवी का नाम उभर के सामने आया है।

कौन है इस फ्रॉड में शामिल?

आपको बता दें, रिपब्लिक टीवी के साथ फक्त मराठी और बॉक्स सिनेमा भी हैं जो कथित रूप से टेलीविजन चैनलों की रेटिंग करने के लिए बार्क द्वारा प्रयुक्त तंत्र को विकृत करने में शामिल हैं। कमिश्नर ने साफ किया कि रैकेट का नाम फाल्स टीआरपी रैकेट है। ये फाल्स रैकेट के जरिए करोड़ों रूपये का प्रॉफिट कमा रहा था। उन्होंने रिपब्लिक टीवी को आरोपी करार दिया और बताया कि चैनल ने पैसे देकर अपनी रेटिंग बढ़ाई।

कैसे काम कर रहा था यह रैकेट?

इस पैसे देकर टीआरपी मैनेज करने के मामले में हंसा नाम की एक कंपनी का नाम भी सामने आया है। हंसा नामक कम्पनी बार्क का काम देखती है और इसके एक कर्मचारी को हिरासत में लिया गया है। ये लोगों को 400-500 रुपये महीने के हिसाब से देते थे और उनसे किसी दिनभर विशेष चैनेल को चलाकर रखने को कहते थे। अब इनके एडवरटाइजर्स से भी पूछताछ होगी और बैंक अकाउंट भी देखे जायेंगे।

मुंबई पुलिस जांच में नहीं छोड़ेगी कोई चूक

परमबीर सिंह का कहना है कि यह अपराध है, बेईमानी है और इसके लिए जांच जारी है। फॉरेंसिक एक्सपर्ट तक की इस मामले में मदद ली जा रही है। फ़िलहाल जो दो छोटे चैनल इस घोटाले में शामिल हैं उनके हैड्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। दोनों के ऊपर ब्रीच ऑफ़ ट्रस्ट और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है। मुंबई पुलिस ने बताया कि जो भी इस धोखाधड़ी में शामिल है चाहे वो कितने ही ऊँचे पद पर हो उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

 अर्णब गोस्वामी ने कमिश्नर के आरोपों को बताया गलत

रिपब्लिक टीवी चैनल के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी का कहना है कि वो मुंबई पुलिस कमिश्नर के खिलाफ इस मामले पर क़ानूनी कार्यवाही करेंगे। उन्होंने कहा कि मुंबई पुलिस उन्हें आरोपी इसलिए बना रही है क्योंकि वो सुशांत सिंह राजपूत केस में उनपर सवाल उठा रहे थे। अर्णब ने कहा कि मुंबई पुलिस कमिश्नर को हमसे माफ़ी मांगनी चाहिए या फिर कोर्ट में हमारा सामना करने को तैयार रहे।

अदिति शर्मा
Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: