दुनिया
Breaking News

स्वीडन में दक्षिणपंथी चरमपंथियों ने जलाया इस्लामिक धार्मिक ग्रंथ, दंगे भड़के

स्वीडन में एंटी इस्लाम गतिविधियों की वजह से दंगा भड़क गया। हुआ यूँ कि दक्षिण स्वीडन में स्थित्त मामलो शहर में 300 लोग इस्लाम विरोधी गतिविधियों का विरोध करने के लिए सड़कों पर उतर गए। वजह बताई जा रही है कि पिछले दिन कुछ दक्षिणपंथी चरमपंथियों ने कुरान की प्रति को जलाया था, जिसके विरोध में यह प्रदर्शन हुआ।

दंगे में पुलिस पर हुआ हमला

प्रदर्शनकारियों के विरोध प्रदर्शन के दौरान दंगा इस कदर भड़क गया कि विरोध करने वाले कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव किया और कार के टायर्स में आग लगा दी। पुलिस ने बताया कि यह दंगा भड़कने की वजह है कि दिन में दक्षिणपंथी चरमपंथियों ने माल्मो में कुरान की एक प्रति को जलाया था, जिसपर गुस्सा जाहिर करते हुए लोग सड़कों पर उतर गए। आगे पुलिस ने बताया कि दंगा पर काबू पाना मुश्किल हो रहा है लेकिन हम इसपर नियंत्रण पाने के लिए लगातार कोशिश कर रहे हैं।

कुरान जलाई जाने की जगह पर हुआ प्रदर्शन 

पुलिस ने बताया कि प्रदर्शन उसी जगह पर हुआ जहां कुरान की प्रति को जलाया गया था। एक समाचार पत्र के मुताबिक शुक्रवार को और भी कई इस्लामिक विरोधी गतिविधियां हुईं थी, जिसमें एक ऐसी घटना भी शामिल है कि तीन लोगों ने मिलके सार्वजनिक चौक पर सबके सामने कुरान को लात मारी थी। 

रामसुस पालुदन पर लगा बैन

समाचार पत्र से एक और खुलासा हुआ है जिसके मुताबिक स्वीडन के राजनितिक नेता रमसुस पालुदन को माल्मो में मीटिंग की इजाजत स्वीडिश अथॉरिटीज ने नहीं दी। जिसके बाद यह दंगा भड़क गया। इसके अलावा उन्हें स्वीडन की सीमा के अंदर नहीं आने दिया और बॉर्डर पर ही रोक दिया गया। अधिकारियों का कहना है रामसुस जो कि इस्लाम विरोधी बयानबाजी करने के लिए जाने जाते हैं उनके ऊपर स्वीडन आने से दो साल का प्रतिबंध लगा दिया गया है।

अदिति शर्मा
Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: