राज्‍यों से

UP: पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की मौत, पुलिस को पहले ही बताया था जान का खतरा 

सुलभ ने 12 जून की ADG और एसपी को पत्र में लिखा था कि उन्होंने अवैध शराब की छापेमारी पर रिपोर्टिंग की थी, जिसके चलते शराब माफिया उनसे नाराज थे।

उत्तर प्रदेश में एबीपी न्यूज चैनेल के रिपोर्टर सुलभ श्रीवास्तव की सड़क हादसे में मौत हो गई। प्रतापगढ़ इलाके में उनकी मोटरबाइक ईंट के भट्टे से टकराई जिसके बाद उन्हें घायल अवस्था में कटरा रोड के एक ईंट के भट्टे के पास पाया गया। पुलिस ने उनकी मृत्यु की वजह मोटरबाइक एक्सीडेंट बताई है।वहीं परिजनों का कहना है कि उनपर हमला किया गया है।

ADG को पत्र लिख शराब माफिया से बताया था जान का खतरा

यूपी के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव ने एक दिन पहले ही पुलिस को पत्र लिखकर अपनी जान का खतरा बताया था। सुलभ ने 12 जून की ADG और एसपी को पत्र में लिखा था कि उन्होंने अवैध शराब की छापेमारी पर रिपोर्टिंग की थी, जिसके चलते शराब माफिया उनसे नाराज थे। साथ ही उन्होंने लिखा था कि जब भी वो घर से बहार निकलते हैं तो उन्हें डर लगता है कि कोई उनका पीछा कर रहा है। उन्होंने पत्र में सुरक्षा की मांग भी की थी।

एबीपी गंगा के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव ड्यूटी खत्म कर रविवार रात 11 बजे अपने घर लौट रहे थे जिस दौरान उनकी बाइक के साथ यह हादसा हुआ और उनकी मौत हो गयी। प्रतापगढ़ पुलिस ने स्टेटमेंट में कहा कि शुरूआती जांच के मुताबिक बाइक के हैंडपंप से टकराने के बाद उनका बैलेंस बिगड़ा और मौत हो गयी। पुलिस फ़िलहाल मामले की जांच कर रही है। 

विपक्ष ने योगी सरकार को घेरा

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि योगी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया और उत्तर प्रदेश सरकार की चुपी पर सवाल किया। साथ ही योगी आदित्यनाथ को यूपी में जंगलराज के लिए जिम्मेदार बताया।

वहीं समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने पत्रकार की मौत पर दुःख जताया और लिखा की बीजेपी को इस मामले में उच्च स्तरीय जांच करवानी चाहिए और परिजनों और जनता को बताना चाहिए की पत्रकार के आशंका जताने के बाद भी उन्हें सुरक्षा क्यों नहीं दी गयी।

अदिति शर्मा 

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: